तेलंगाना सरकार और चुनाव आयोग ने उच्च न्यायालय को दी यह जानकारी

हैदराबाद: तेलंगाना सरकार और चुनाव आयोग ने उच्च न्यायालय को तीन MLC सीटों पर चुनाव नहीं लढ़ने की जानकारी दी है। बताया जा रहा है कि इन तीन जगहों पर चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य करार दिया गया है और यह मामला विचाराधीन है।
MLC रामूलाल नायक, यादव रेड्डी और भूपति रेड्डी ने इन सीटों को लेकर याचिका दायर की है। उच्च न्यायालय ने इन्हें अयोग्य करार क्यों नहीं दिया जाना, इस पर सुनवाई की। तेलंगाना सरकार और चुनाव आयोग की ओर से अधिवक्ता ने बताया कि उच्च न्यायालय के जस्टीस चल्ला कोदंडराम ने सुनवाई में कहा था कि इस संदर्भ में अंतिम निर्णय तक प्रतिक्षा करनी होगी।
वरिष्ठ अधिवक्ता सलमान खुर्शिद और डी. प्रकाश रेड्डी ने कहा कि रामलू और यादव रेड्डी को अयोग्य करार देने उनके साथ नेचुरल जस्टीस के तहत अन्याय होगा। न्यायालय ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय ने अथॉरिटीज को आदेश दिया कि जिन MLC जगहों के लिए याचिका विचाराधीन है, उन जगहों पर MLC के चुनाव नहीं लिये जाये। साथ ही कहा कि इस तरह के मामले को सुलझाने के लिए समय देना चाहिए।
जस्टीस कोदंडराम ने कहा कि इस तरह के मामले डिविजन बेंच से होगी और बाद में सर्वोच्च न्यायालय में मामले की अंतिम सुनवाई होगी। बता दें कि भूपति रेड्डी ने आरोप लगाया कि राजनीतिक रंजिश के चलते तीनों नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की गई है। उन्होंने कहा कि उन्होंने स्थानीय निकाय संस्था के चुनाव में निर्विरोध जीत हासिल की। पार्टी के टिकट पर उन्होंने चुनाव लड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *