पाक की जवाबी कार्यवाही से भड़का भारत, पाकिस्तान के उप-उच्चायुक्त को तलब कर जताया कड़ा विरोध

प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान की ओर से बुधवार की सुबह भारतीय सीमा के भीतर की गई जवाबी सैन्य कार्यवाही से नाराज़ भारत ने दिल्ली में मौजूद पाकिस्तान के उप-उच्चायुक्त को तलब कर कड़ा विरोध दर्ज कराया है। बुधवार की शाम भारतीय विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान के डिप्युटी हाई कमिश्नर सैयद हैदर शाह को तलब किया और पाकिस्तान द्वारा नियंत्रण रेखा पर की गई जवाबी कार्यवाही के विरोध में कड़ी आपत्ति जताई है।

दूसरी ओर भारत ने दावा किया है कि उसने पाकिस्तान द्वारा की गई सैन्य कार्यवाही के जवाब में पाकिस्तान के एक लड़ाकू विमान F-16 को मार गिराया है। भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया कि इस कार्यवाही में भारत का एक मिग-21 लड़ाकू विमान भी नष्ट हो गया और एक पायलट लापता है। हालांकि पाकिस्तान की ओर से दावा किया जा रहा है कि उनके कब्ज़े में 2 भारतीय पायलट हैं।

इस बीच, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक बार फिर शांति की अपील की है। उन्होंने कहा है कि पुलवामा के बाद हमने भारत को जांच की पेशकश की थी, इस घटना में भारत का जानी नुक़सान हुआ है और मुझे पता है कि उनके परिजनों को कितनी तकलीफ़ हुई है। इमरान ख़ान ने कहा कि हमने भारत को पेशकश की थी कि अगर पुलवामा मामले में कोई पाकिस्तानी लिप्त है हम सहयोग के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि क्या हमें सोचना नहीं चाहिए अगर जंग शुरू होती है तो यह किधर जाएगी, क्योंकि तब यह न मेरे क़ाबू में होगी और न ही नरेंद्र मोदी के क़ाबू में होगी। इमरान खान ने कहा कि दुनिया में हमेशा युद्ध को लेकर ग़लत अनुमान लगाया गया था।

उल्लेखनीय है कि भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनाव पर दुनियाभर के देशों की नज़र है। अमेरिका के बाद अब रूस का भी बयान आया है, रूस के राष्ट्रपति भवन के प्रवक्ता दमित्री पेस्केव ने कहा है कि रूस, भारत और पाकिस्तान की सीमा पर बढ़ते तनाव को लेकर संयम बरतने का आह्वान करता है। उन्होंने कहा कि रूस, दोनों देशों के बीच बढ़ते तनाव को लेकर काफ़ी चिंतित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *