पेट्रोल हमले में मृत छात्रा के परिवार को करेंगे हर संभव मदद : दयाकर राव

हैदराबाद/वरंगल : सरफिरे छात्र के पेट्रोल हमले में मृत का शिकार हुई छात्रा रवली का मंगलवार को गांधी अस्पताल में पोस्टमार्टम किया गया। इसके बाद रवली के शव को वरंगल जिले के रामचंद्रपुर गांव को भेज दिया गया। इसी क्रम में तेलंगाना के पंचायतराज मंत्री एर्रबेल्ली दयाकर राव अस्पताल के पास रवली के परिजनों को सांत्वना दी।

इस अवसर पर दयाकर राव ने मीडिया से कहा कि रवली की तबीयत पहले से ही बहुत गंभीर थी। सरकार ने रवली की चिकित्सा खर्च उठाया है। डॉक्टरों ने रवली को बचाने के लिए बहुत कोशिश की। मगर उसे बचाया नहीं जा सका। इस प्रकार की घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो इसके लिए आवश्यक कदम उठाया जाएगा।

मंत्री ने कहा कि रवली के परिवार को हर संभव सहायता की जाएगी। रवली के परिजनों की इच्छानुसार दोषी को कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी। इस मामले से जुड़ी सभी सबूतों को कोर्ट में पेश किये जाएगा।साथ ही पीड़ित परिजनों को न्याय दिलाने के लिए आवश्यक कदम उठाया जाएगा।

आपको बता दें कि कॉलेज में पढ़ाई कर रहे सिरफिरे छात्र साई ने गत 27 फरवरी को रवली शरीर पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी थी। इसके बाद रवली को सिकंदराबाद के यशोदा अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां उसकी 6-7 दिन इलाज के बाद सोमवार को मौत हो गई।

पेट्रोल की आग के कारण उसे सास लेने में तकलीफ हो रही थी। इसके चलते उसका वेंटिलेशन के जरिए इलाज किया जा रहा था। मगर चिकित्सों को सफलता नहीं मिली। वरंगल जिले के संगेम मंडल के लोहिता काकतिया कॉलेज में रवली और साई डिग्री तृतीय वर्ष की पढ़ाई कर रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *