आईटी ग्रिड्स डेटा मामले को लेकर तेलंगाना पुलिस ने अब तक संपर्क नहीं किया : RP ठाकुर

अमरावती : आंध्र प्रदेश पुलिस महानिदेशक आरपी ठाकुर ने कहा कि आईटी ग्रिड्स डेटा घोटाला मामले को लेकर तेलंगाना पुलिस की ओर से मुझे किसी प्रकार की जानकारी नहीं है। तेलंगाना पुलिस ने अब तक इस मामले को लेकर मुझसे संपर्क नहीं किया है। महानिदेशक ने मंगलवार को मीडिय से यह बात कही।

आपको बता दें कि प्रदेश के साड़े तीन करोड़ लोगों के वोटर्स डेटा चोरी होने के बाद हड़कंप मचा है। इस मामले को लेकर साइराबाद पुलिस ने अनेक सबूत हासिल किये है। सरकार से रहने वाली रहस्य जानकारी निजी आईटी ग्रिड्स और ब्लू फ्राग कंपनी के पास मिली है। इन कंपनियों का मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायुडू और मंत्री लोकेश का संबंध होने का भी खुलासा हो रहा है।

दूसरी ओर आंध्र प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी गोपाल कृष्ण द्विवेदी ने बताया कि एक सप्ताह पहले वोट हटाने के लिए एक लाख आवेदन आये हैं। हर आवेदन की जांच के बाद ही नामों को मतदाता सूची में हटाया जा सकता है। गोपाल कृष्ण ने मंगलवार को मीडिया से यह बात की।

निर्वाचन अधिकारी ने चेतावनी दी है कि वोटों को हटाने में धोखाधड़ी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यदि कोई चुनाव अधिकारी गलती करते हुए पाया जाता है तो उसे सेवा से निलंबित किया जाएगा। साथ ही एफआईआर भी दर्ज किया जाएगा। कोई वोटों को हटाता है तो निर्वाचन अधिकारी खामोश नहीं बैठेगी। दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में वोट हटाने के 100 से अधिक मामले दर्ज किये गये है।

गोपाल कृष्ण ने कहा कि तेलंगाना में पाये गये डेटा चोरी मामले में अनेक मुद्दे सामने आये हैं। डेटा कहां से आया है ये लोगों को मालूम होने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि डेटा चोरी मामले को पुलिस और कोर्ट ही आवश्यक कार्रवाई करे। उन्होंने बताया कि एडिट बिना किये मतदाता सूची को ही ईसी ने जारी किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *