ईरानी जनता से अमरीका का व्यवहार मानवता विरोधी अपराध हैः रूहानी

डाॅक्टर हसन रूहानी ने बुधवार की रात गीलान प्रांत में एक सभा में कहा कि अमरीका की सरकार यह झूठा दावा करती है कि उसे केवल ईरान की सरकार व व्यवस्था से समस्या है और यह दावा बेशर्मी से बोला गया झूठ है क्योंकि अमरीकी, ईरानी जनता के लिए दवाओं का एक केंद्र बनाने के बारे में भी दबाव डालते हैं। राष्ट्रपति ने कहा कि अमरीकी सरकार ईरानी जनता के साथ जो कुछ कर रही है वह प्रतिबंधों से बढ़ कर और मानवता विरोधी अपराध है। उन्होंने कहा कि उनकी समस्या परमाणु समझौता या परमाणु वार्ता नहीं है। उन्होंने कहा कि आज अमरीकियों को सभी राष्ट्रों से समस्या है और वे यमन, वेनेज़ुएला व अन्य देशों यहां तक कि अपने दोस्तों पर भी दबाव डाल रहे हैं।

राष्ट्रपति डाॅक्टर हसन रूहानी ने कहा कि अमरीकी सरकार दूसरों को यातनाएं दे कर आनंदित होती है और उसे इस बात पर गर्व होता है कि वह अंतर्राष्ट्रीय समझौतों व संधियों से बड़ी सरलता से बाहर निकल जाती है और यह बात तर्क, बुद्धि और राजनीति से मेल नहीं खाती। उन्होंने कहा कि आज अमरीका में जो टोला सत्ता में बैठा हुआ है उसे सिर्फ़ ईरानी राष्ट्र से ही समस्या नहीं है बल्कि पूरा संसार उसकी हरकतों से मुसीबत में है। राष्ट्रपति रूहानी ने बल देकर कहा कि आज दुनिया को बड़े कठिन दिनों का सामना है और यूरोपीय देशों के उच्चाधिकारी तक अमरीका की सरकार के संबंध में अत्यंत कड़े शब्दों का प्रयोग कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *