आस्ट्रेलिया की संसद लाइवस्ट्रीमिंग रोकने संबंधी विधेयक पर कर रही है विचार


कैनबरा, 04 अप्रैल (वेबवार्ता)। आस्ट्रेलिया की संसद एक ऐसे विधेयक पर विचार कर रही है जिसके तहत सोशल मीडिया पर न्यूजीलैंड मस्जिद नरसंहार जैसी हिंसक तस्वीरें या वीडियो दिखाने पर सोशल मीडिया के कार्यकारियों को जेल हो सकती है। आलोचकों ने सचेत किया है कि प्रतिनिधि सभा के सामने बृहस्पतिवार को रखे गए प्रतिबंधात्मक प्रस्ताव के मीडिया पर सेंसरशिप और आस्ट्रेलिया में निवेश में गिरावट जैसे अनपेक्षित परिणाम हो सकते हैं। सरकार ने क्राइस्टचर्च में हुए हमलों के मद्देनजर यह प्रस्ताव पेश किया गया। न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च की मस्जिदों पर हमला करने वाले हमलावर ने इस हमले का सोशल मीडिया पर सीधा प्रसारण किया था।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *