इराक़ में दाइश के 900 संदिग्ध आतंकियों के ख़िलाफ़ मुक़द्दमा शुरु

एएफ़पी के अनुसार, इन संदिग्धों के ख़िलाफ़ आतंकवाद निरोधक विशेष अदालत में मुक़द्दमा चलेगा। इस अदालत के अधिकारी के अनुसार, इस अदालत में सीरिया से आने वाले दाइश के लगभग 900 सदस्यों की फ़ाइल पहुंच गयी है।

इराक़ सरकार का कहना है कि इन आतंकियों को सीरिया में कथित सीरियन डेमोक्रेटिक फ़ोर्सेज़ एसडीएफ़ ने गिरफ़्तार कर उसके हवाले किया है।

एक सुरक्षा सूत्र ने बताया कि अतिरिक्त इराक़ी संदिग्धों को कि जिसमें दाइश का एक बड़ा सरग़ना इस समय एसडीएफ़ के क़ब्ज़े में है, समूह में इराक़-सीरिया सीमा पर हवाले किया जाएगा।

इन संदिग्धों में, जिसे जल्द ही बग़दाद को सौंपा जाएगा, रासायनिक हथियार बनाने की दाइश की कोशिशों में आगे आगे रहने वाला भी शामिल है।

इराक़ में अब तक सैकड़ों दाइशियों के ख़िलाफ़ क़ानूनी कार्यवाही हो चुकी है। इन दाइशियों में विदेशी नागरिक ख़ास तौर पर सऊदी नागरिक शामिल हैं।

इराक़ में दाइश के ख़िलाफ़ कार्यवाही की नई प्रक्रिया से इस बात का पता चलेगा कि इस आतंकवादी गुट के किन बाहरी देशों से संपर्क हैं।

ग़ौरतलब है कि सऊदी अरब की, आतंकवादी गुटों की वित्तीय मदद के लिए व्यापक स्तर पर आलोचना होती रही है।

पिछले दशक के दौरान सऊदी राजशाही का तकफ़ीरी विचारधारा के प्रसार में मुख्य रूप से रोल रहा है। अलक़ाएदा, दाइश, नुस्रा फ़्रंट और बोको हराम इस विचारधारा के समर्थक गुट हैं।

उत्तरी और पश्चिमी इराक़ में दाइश के ख़िलाफ़ इराक़ी सेना की कार्यवाही के दौरान पकड़े गए विदेशी आतंकियों में बड़ी संख्या में सऊदी नागरिक थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *