इस्राईल की ख़तरनाक चाल, गोलान हाइट्स को डोनल्ड ट्रम्प के नाम पर रखने का फ़ैसला

तेल अवीव में बिनयामीन नेतनयाहू का कहना था कि अमरीकी राष्ट्रपति का नाम आवासीय क्षेत्र के नाम पर रखने के लिए समस्त क़ानूनी कार्यवाहियों की मंज़ूरी के लिए कार्यवाहियां जारी हैं।

उन्होंने साप्ताहिक मंत्रीमंडल की बैठक में कहा कि मैं वचन देता हूं कि हम ऐसी कम्युनिटी बनाएंगे जिसका नाम अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प होगा। उन्होंने कहा कि मैं सूचना देना चाहता हूं कि हमने गोलान हाइट्स में एक स्थान विशेष कर रखा है जहां नई बस्तियां बनाई जाएंगी।

ज्ञात रहे कि इस्राईल ने 1967 में सीरिया के सीमावर्ती क्षेत्र गोलान हाइट्स पर क़ब्ज़ा कर लिया था।

जारी वर्ष डोनल्ड ट्रम्प ने विवादित गोलान हाइट्स के क्षेत्र पर इस्राईली नियंत्रण को आधिकारिक रूप से स्वीकार करते हुए इसके दस्तावेज़ पर हस्ताक्षर कर दिए थे।

डोनल्ड ट्रम्प ने इस्राईली प्रधानमंत्री बिनयामीन नितिनयाहू के वाइट हाऊस के दौरे के दौरान दस्तावेज़ पर हस्ताक्षर किए, इस कार्यवाही ने अमरीकी नीति को अर्धशताब्दी से अधिक अविध में पीछे ढकेल दिया है।

ज्ञात रहे कि इस्राईली ने 1967 में छह दिवसीय युद्ध के दौरान गोलान हाइट्स, पश्चिमी किनारे, पूर्वी बैतुल मुक़द्दस और ग़ज़्ज़ा पट्टी पर नियंत्रण किया था।

जारी वर्ष मार्च में मानवाधिकार की वार्षिक रिपोर्ट में कहा गया था कि अमरीकी विदेशमंत्रालय ने “इस्राईली अतिग्रहण” शब्द के बजाए “इस्राईली नियंत्रण” शब्द का प्रयोग किया जो अमरीकी नीतियों में स्पष्ट परिवर्तन का चिन्ह है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *