डील आफ सेंचुरी को लागू नहीं होने देंगेः हमास

हमास के नेता मूसा अबूरमज़ूक़ ने कहा है कि हम डील आफ सेंचुरी या किसी भी प्रकार की उस डील को लागू नहीं होने देंगे जो फिलिस्तीन के विषय को सदैव समाप्त करने के लिए हो। उन्होंने कहा कि फ़िलिस्तीनियों की एकता और एकजुटता के कारण डील आफ सेंचुरी का आर्थिक आयाम पूरी तरह से नष्ट हो गया। हमास के नेता ने कहा कि अमरीकी योजना डील आफ सेंचुरी बहुत ही ख़तरनाक योजना है। उन्होंने कहा कि इसके लागू होने से पवित्र स्थलों का यहूदीकरण हो जाएगा, फ़िलिस्तीनियों को स्वदेश वापसी का अधिकार नहीं रहेगा और अवैध ज़ायोनी शासन के साथ संबन्ध सामान्य हो जाएंगे।

हमास के नेता अबू मरज़ूक़ ने इस षडयंत्र की कड़ी आलोचना की है कि अवैध ज़ायोनी शासन के स्थान पर ईरान को शत्रु के रूप में पेश किया जाए। ज्ञात रहे कि अमरीकी योजना डील आफ सेंचुरी के अनुसार बैतुल मुक़द्दस ज़ायोनी शासन को दे दिया जाएगा, दूसरे स्थानों पर बसे फ़िलिस्तीनियों को अपने देश वापसी की अधिकार नहीं होगा और जार्डन नदी का पश्चिमी तट अर्थात ग़ज़्ज़ा की पट्टी ही केवल फ़िलिस्तीनी धरती के रूप में बाक़ी बचेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *