KCR और YS जगन की प्रगति भवन में बैठक शुरू

हैदराबाद : आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी और तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव एक बार फिर बैठक कर रहे हैं। बैठक में विभाजन के दौरान दिये गये आश्वासन और लंबित जल विवाद का हल निकालने को लेकर चर्चा की जा रही है।

शु्क्रवार को प्रगति भवन में शुरू हुई बैठक में मुख्यमंत्री वाईएस जगन के साथ मंत्री पेद्दिरेड्डी रामचंद्रा रेड्डी, बालिनेनी श्रीनिवास रेड्डी, कुरसाला कन्नबाबू, बुग्गना राजेंद्रनाथ, पेर्नी नानी, अनिल कुमार और अन्य अधिकारी भी भाग ले रहे हैं।

इसी क्रम में बैठक में तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसीआर के साथ मंत्री ईटेला राजेंदर, एस निरंजन रेड्डी, श्रीनिवास गौड़, वरिष्ठ नेता के केशव राव, सलाहकार राजीव शर्मा, मुख्यसचिव एसके जोशी और अन्य अधिकारी भी भाग ले रहे हैं।

इससे पहले मुख्यमंत्री वाईएस जगन सुबह 11.15 बजे प्रगति भवन पहुंचे। मुख्यमंत्री केसीआर ने वाईएस जगन का भव्य स्वागत किया। इसके बाद बैठक शुरू हुई। बैठक की शुरुआती भाषण में केसीआर ने वाईएस जगन और उनके साथ आये मंत्री व अधिकारियों को स्वागत किया।

इस बैठक में लंबित समस्याओं पर चर्चा की जाएगी। तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के बीच लंबे समय से चले आ रहे जल विवाद और विभाजन के दौरान दिये गये आश्वासन और उसका हल ढूंढ निकालने के लिए दोनों राज्यों के मुख्यमंत्री कदम आगे बढ़ा रहे हैं। बैठक में भाग लेने के लिए वाईएस जगन गुरुवार को ही हैदराबाद पहुंच चुके हैं।

संयुक्त आंध्र प्रदेश के दौरान बिजली परियोजनाओं में तेलंगाना को 63.89 फीसदी और एपी की 46.11 फीसदी भागीदारी है। विभाजन के बाद तीन साल तक के बिजली को लेकर दोनों राज्यों में भागीदारी का बंटवारा किया गया। संबंधित बिलों का भुगतान एक दूसरों को किया जाना है।

यह भी बताया जा रहा है कि दोनों राज्यों के मुख्यमंत्री दूरगामी दृष्टि से जल विवादों का हल निकालने पर गंभीरता से विचार कर रहे हैं। इसी क्रम में सिंचाई एवं पेयजल की समस्या का हल निकालने पर भी चर्चा होने की संभावना है।

सूत्रों ने यह भी बताया कि इस विषय में और भी स्पष्टता आने की आवश्यकता है। मगर हाल ही में कालेश्वरम परियोजना के उद्घाटन के दौरान मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव और जगनमोहन रेड्डी के बीच दोनों राज्यों के बीच लंबे समय से जारी जल विवाद का समाधान ढूंढ निकालने को लेकर चर्चा हुई है।

आपको बता दें कि 21 जून को कालेश्वरम परियोजना का उद्घाटन किया गया। इस अवसर पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने भी भाग लिया था। इस दौरान केसीआर और वाईएसस जगन ने दोनों राज्यों के बीच चल रहे विवाद का हल निकालने पर चर्चा की थी। तब दोनों राज्यों के मुख्यमंत्री ने जल्द से जल्द जल विवाद को हल करने के लिए चर्चा करने पर सहमति जताई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *